ऐसे देश है जहाँ भारत का ड्राइविंग लाइसेंस मान्य है

242

भारतीय ड्राइविंग लाइसेंस को लेकर आपको शायद इस बारे में जानकारी नहीं होगी कि आप इस लाइसेंस से ही विदेशों में भी गाड़ी चला सकते हैं। हालांकि सड़क पर लागू नियम तो उसी देश के माने जाएंगे, लेकिन विदेश में भी आपका भारतीय लाइसेंस काम करेगा।

हर देश में सड़कों पर वाहन चलाने के लिए खास नियम व कानून होते हैं। बात करें भारत की तो हमारे यहां टू व्लीलर्स से लेकर फोर व्हीलर्स चलाने के लिए ड्राइविंग लाइसेंस का होना जरुरी है। इस ड्राइविंग लाइसेंस से ही यह तय होता है कि आप कौन से वाहन को कब तक चला सकते हैं।

दोस्तों हम आपको इस बारे में ही खास दिलचस्प जानकारी देने जा रहे हैं जिससे आपको पता चल पाएगा कि आप किन विदेशी जगहों पर बिना किसी रोक टोक के ड्राइव कर सकते हैं।

1. अमेरिका में चला सकते हैं भारतीय ड्राइविंग लाइसेंस के साथ गाड़ी

भारत में गाड़ी को सड़क के बायीं और चलाया जाता है जबकि अमेरिका में सड़क के दायीं और गाड़ियां चलाई जाती है। यदि किसी भारतीय के पास वैलिड ड्राइविंग लाइसेंस है और वह अंग्रेजी भाषा में है तो आप अमेरिका में पूरे साल जहां चाहे वहां आराम से गाड़ी चला सकते हैं।

यदि आपका ड्राइविंग लाइसेंस अंग्रेजी में नहीं है तो आपको अंतर्राष्ट्रीय ड्राइविंग परमिट के साथ साथ फॉर्म I-94 की कॉपी भी अपने साथ रखनी होगी। फॉर्म I-94 में आपके अमेरिका आने की तारीख के बारे में जानकारी दी गई होती है।

2. ऑस्ट्रेलिया में मान्य है भारतीय ड्राइविंग लाइसेंस

ऑस्ट्रेलिया में भी भारत की तरह ही सड़क के बाईं ओर ड्राइविंग की जाती है। अगर आपके पास वैलिड ड्राइविंग लाइसेंस है जो कि अंग्रेजी में हो तो, आप 3 महीने तक क्वींसलैंड, न्यू साउथ वेल्स, दक्षिण ऑस्ट्रेलिया, उत्तरी क्षेत्र और ऑस्ट्रेलियाई राजधानी क्षेत्र में गाड़ी चला सकते हैं। यहां इंटरनेशनल ड्राइविंग लाइसेंस की भी जरूरत होती हैं।

3. फ्रांस में भी चला सकते हैं गाड़ी

इस देश में सड़क के दायीं तरफ गाड़ी चलाते है। यहां की सड़कों पर आप इंडियन ड्राइविंग लाइसेंस की मदद से 1 साल तक ड्राइविंग का बेझिझक मजा ले सकते हैं। लेकिन इसके साथ ही आपको लाइसेंस की फ्रेंच कॉपी भी अपने साथ रखनी होगी।

4. मॉरीशस

अगर आपके पास भारतीय ड्राइविंग लाइसेंस (इंग्लिश भाषा में) और अंतर्राष्ट्रीय ड्राइविंग परमिट है तो आप इस छोटे से देश में गाड़ी से घूमते हुए एक दिन में पूरा देख सकते हैं।

Young couple driving convertible at sunset

5. जर्मनी में चलता है भारतीय ड्राइविंग लाइसेंस

जर्मनी में भी सड़क के दाई तरफ गाड़ी चलाई जाती है। इस देश में आप इंडियन ड्राइविंग लाइसेंस से 6 महीने तक गाड़ी चला सकते हैं। यहां इंटरनेशनल ड्राइविंग लाइसेंस की जरूरत नहीं पड़ती।

 

 

लेकिन इसके साथ ही जरुरी है कि आपके पास इंडियन लाइसेंस की इंग्लिश कॉपी होनी चाहिए। इसके अलावा गाडी़ के बाकी डॉक्यूमेंट्स भी होने चाहिए।

6. नॉर्वे

मिडनाइट सन की जमीन कहे जाने वाले इस देश में गाड़ियां सड़क के दायीं तरफ चलती हैं। यहां आप इंडियन ड्राइविंग लाइसेंस की मदद से सिर्फ 3 महीने ही गाड़ी चला सकते हैं इसके साथ ही लाइसेंस का अंग्रेजी में होना भी जरूरी है।

7. न्यूजीलैंड

भारतीय ड्राइवर, इंडियन ड्राइविंग लाइसेंस के साथ न्यूजीलैंड पर तभी ड्राइव कर सकते हैं जब गाड़ी चलाने वाले की उम्र 21 से ऊपर हो। यहां पर भी सड़क के बायीं तरफ गाड़ी चलाई जाती हैं।

लाइसेंस का अंग्रेजी में होना जरूरी है, या फिर न्यूजीलैंड ट्रांसपोर्ट एजेंसी से ट्रांसलेट कराया जाना चाहिए।

8. साउथ अफ्रीका

दक्षिण अफ्रीका में गाड़ी सड़क के बायीं ओर चलती है। साउथ अफ्रीका में गाड़ी चलाने के लिए आपका ड्राइविंग लाइसेंस अंग्रेजी में होना जरुरी है। इसके साथ ही यह भी ध्यान रहे कि आपके पास अंतरराष्ट्रीय ड्राइविंग परमिट भी हो, क्योंकि वहां की वाहन कम्पनियाँ गाड़ी किराये पर देते समय अंतरराष्ट्रीय ड्राइविंग परमिट देखती हैं।

9. स्विट्जरलैंड

स्विट्जरलैंड में बर्फ से ढकी पहाड़ियों के बीच आखिर कौन गाड़ी नहीं चलाना चाहेगा। स्विट्जरलैंड में गाड़ी सड़क के दायीं तरफ चलती है। यहाँ आप लाइसेंस से 1 साल तक गाड़ी चला सकते हैं। हालांकि यहां पर भी लाइसेंस का अंग्रेजी में होना जरुरी है।

 

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App

Leave A Reply

Your email address will not be published.