कुमारस्वामी ने किया वादा पूरा, किसानों के 34 हजार करोड़ के कर्ज माफ

मुख्यमंत्री ने अपने बजट भाषण में कहा कि पहले चरण में 31 दिसंबर, 2017 तक के ऋण को माफ करने का फैसला किया गया है

742

कुमारस्वामी ने किया वादा पूरा, किसानों के 34 हजार करोड़ के कर्ज माफ:  कर्नाटक की कांग्रेस-जेडीए सरकार के मुखिया कुमारस्वामी ने गुरुवार को अपनी सरकार का पहला बजट पेश कर दिया। जेडीएस द्वारा चुनाव पूर्व किसानों से किए गए कर्ज माफी के वादे को भी उन्होंने इस बजट में पूरा किया। उन्होंने बजट में किसानों के 2 लाख रुपए तक के कृषि ऋण माफ करने की घोषणा की.

उन्होंने कहा कि पहले चरण में 31 दिसंबर, 2017 तक के ऋण को माफ करने का फैसला किया गया है. एचडी कुमारस्वामी ने बजट पेश करते हुए कहा कि हमने अपने चुनावी वादे को पूरा करते हुए किसानों का 34000 करोड़ का कर्ज माफ करने की घोषणा की है।

इसके साथ ही सीएम ने कहा कि पूर्ववर्ती कांग्रेस सरकार की सभी योजनाओं को यथावत जारी रखा जायेगा। इसके साथ ही कुछ योजनाओं को और बेहतर बनाया जायेगा।

बता दें बजट पेश करने को लेकर सीएम कुमारस्वामी और पूर्व कांग्रेसी ​सीएम सिद्धारमैया के बीच तनातनी की खबर आ रही थीं। सिद्धारमैया चाहते थे कि कुमारस्वामी उनके पेश बजट को ही लागू करें जबकि कुमारस्वामी नया बजट पेश करना चाहते थे। दोनों नेताओं के बीच चल रहे विवाद पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने खुद हस्तक्षेप कर मामला सुलटाया था।

राहुल ने कुमारस्वामी को नया बजट पेश करने की अनुमति दी थी। जिसके बाद आज गुरुवार को कर्नाटक सरकार ने बजट पेश किया। बजट पेश करने के ​दौरान विपक्ष ने हंगामा भी किया। इसस पहले बुधवार को राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा ​था कि उन्हें पूरी उम्मीद है कि कांग्रेस—जेडीएस सरकार किसानों का कर्ज माफ करेगी और खेती को अधिक मुनाफे का काम बनाने के हमारे वादे को पूरा करेगी।

कुमारस्वामी ने कहा, ‘किसानों के खाते में ऋण की राशि या 25 हजार रुपए, जो भी कम है, क्रेडिट करने का फैसला लिया है.’ उन्होंने बताया कि ऋण माफी की सीमा को 2 लाख रुपए तक सीमित क्यों है. कुमारस्वामी ने कहा, ‘बड़े किसानों के पास 40 लाख रुपए का कर्ज है. उच्च मूल्य फसल ऋण को खत्म करने का अधिकार नहीं है, इसलिए मैंने ऋण राशि को 2 लाख रुपए तक सीमित करने का फैसला किया है.’

हालांकि सरकारी अधिकारियों और सहकारी क्षेत्र के अधिकारी जिनके पास जमीन है वह इस ऋण माफी के दायरे से बाहर हैं. इसके साथ ही वह किसान भी जिन्होंने बीते 3 साल से इनकम टैक्स नहीं भरा है वह भी इस ऋण माफी का फायदा नहीं ले सकेंगे.

बजट में पेट्रोल-डीजल पर स्टेट टैक्स में बढ़ोतरी की घोषणा

राज्य की आर्थिक स्थिति बहुत अच्छी स्थिति में नहीं है, इसलिए कुमारस्वामी ने अतिरिक्त धन जुटाने के लिए बजट में पेट्रोल और डीजल पर स्टेट टैक्स बढ़ाए जाने की घोषणा की. इसके तहत पेट्रोल पर अब 30 की बजाए 32 प्रतिशत राज्य टैक्स लगेंगे जबकि डीजल पर यह 19 से बढ़कर 21 प्रतिशत हो गया है. सरकार के इस फैसले से पेट्रोल 1.14 रुपए प्रति लीटर और डीजल 1 रुपए 12 पैसे प्रति लीटर महंगा हो जाएगा.

बेंगलुरु में पिछले साल खुले इंदिरा कैंटीन की लोकप्रियता को देखते हुए कुमारस्वामी ने 211 करोड़ की लागत से राज्य भर में इस तरह के 247 इंदिरा कैंटीन खोले जाने की घोषणा की.

कुमारस्वामी ने विधानसभा चुनाव अभियान के दौरान, वादा किया था कि अगर जनता दल सेकुलर (जेडीएस) सरकार में आई तो किसानों के कर्ज माफ किए जाएंगे.

इसी साल मई में कांग्रेस के साथ गठबंधन सरकार बनाने के बाद कर्ज माफी को लेकर दोनों पार्टियों के बीच टकराव की स्थिति पैदा हो गई थी.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App

Leave A Reply

Your email address will not be published.