उप्र में योगीराज में बिजली संकट गहराता जा रहा है: अखिलेश

56

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने योगी सरकार पर करारा हमला बोला है। उन्होंने कहा कि योगीराज में उत्तर प्रदेश में बिजली संकट गहराता जा रहा है। रोजाना लंबी अवधि के लिए बिजली कटौती होने से जनता त्राहि-त्राहि करने लगी है।

यादव ने शुक्रवार को यहां कहा कि उत्तर प्रदेश की भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) सरकार में राज्य की बिजली व्यवस्था पूरी तरह ध्वस्त हो गयी है। रोजाना लम्बी अवधि के लिए बिजली कटौती होने से जनता परेशान होने लगी है। राजधानीवासी भी यह संकट झेलने को मजबूर हैं।

हरियाणावासियों के लिए खुशखबरी, बस सेवा को लेकर हुआ सबसे बड़ा करार

अखिलेश ने कहा कि राजधानी वासी भी यह संकट झेलने को मजबूर हैं और लगता नहीं कि जल्दी राहत मिलेगी। भाजपा राज में बिजली व्यवस्था पटरी से पूरी तरह उतर गई है। प्रदेश के ऊर्जा मंत्री की अपने विभाग के अतिरिक्त तमाम व्यस्तताएं हैं। इस कारण अधिकारी मनमानी करने को स्वतंत्र हैं। लाइन हानि पर रोक नहीं हो पा रही है। बिजली चोरी और बढ़ते फाल्ट के साथ ट्रांसफार्मर फुंकने की घटनाएं बढ़ गई हैं।

सपा अध्यक्ष ने कहा कि समाजवादी सरकार ने ऊर्जा संकट से निबटने के लिए कई बिजलीघरों की स्थापना के साथ बंद पड़ी विद्युत इकाईयों को फिर शुरू कराया था। सौर ऊर्जा के तहत मार्च 2017 तक 500 मेगावाट की सोलर परियोजनाएं स्थापित हुई थी।

जींद की इस गोशाला में न चारा, न ही पानी, तिल-तिल मर रहा गोवंश

समाजवादी सरकार के समय ग्रामीण क्षेत्रों में 14 से 16 घंटे, शहरी क्षेत्रों में 22 से 24 घंटे विद्युत आपूर्ति सुलभ थी तथा बिजली की सप्लाई 16 हजार मेगावाट तक पहुंच गई थी। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार में न तो एक सबस्टेशन का निर्माण हुआ और न ही एक यूनिट विद्युत उत्पादन हुआ। उपभोक्ताओं के हितों की अनदेखी करते हुए भाजपा सरकार उल्टे उनका उत्पीड़न कर रही है।

उन्होंने कहा कि सरकार और शक्तिभवन के एसी कक्षों में बैठे लोगों को आम जनता की मुसीबतों से कोई वास्ता नहीं है। ट्यूबवेलों को समय से बिजली नहीं दिए जाने से किसान परेशान हैं, वे सिंचाई नहीं कर पा रहे हैं। सरकार झूठी बयानबाजी से ही अपना काम चला रही है। लोग महसूस कर रहे हैं कि उनके साथ धोखा हुआ है, वे अब इनके बहकावे में आनेवाली नहीं हैं।

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App

Leave A Reply

Your email address will not be published.