कांग्रेस की तुष्टीकरण नीति के चलते हुआ देश-विभाजन : अमित शाह

139

कोलकाता। भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह ने बुधवार को कहा कि अगर कांग्रेस ने तुष्टीकरण की नीति अपनाकर राष्ट्रीय-गीत ‘वंदे मातरम्’ पर प्रतिबंध नहीं लगाती तो देश का विभाजन टाला जा सकता था।

यहां डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी रिसर्च फाउंडेशन की ओर से आयोजित कार्यक्रम में बंकिम चंद्र चट्टोपाध्याय स्मारक प्रथम व्याख्यान प्रस्तुत करते हुए कहा, “अगर कांग्रेस राष्ट्रीय-गीत वंदे मातरम के आगे के छंदों पर प्रतिबंध नहीं लगाए होती तो हम भारत का विभाजन होने से रोक लिए होते।” BJP chief Amit Shahउन्होंने वंदे मातरम् को राष्ट्रीयता की सदियों पुरानी परंपरा की अभिव्यक्ति बताई और इस बात पर बल दिया कि इस गीत को किसी धर्म से जोड़कर नहीं देखा जा सकता है।

उन्होंने कहा, “वंदे मातरम राष्ट्रीयता की सदियों पुरानी परंपरा की अभिव्यक्ति है। भारत भौगोलिक-राजनीतिक आधार पर बना देश नहीं है, बल्कि यह भू-सांस्कृतिक देश है। भारत की राष्ट्रीयता की परिभाषा संकीर्ण नहीं है।”Amit Shah

भाजपा अध्यक्ष ने कहा, “यह किसी धर्म से जुड़ा हुआ नहीं हो सकता है। लेकिन कांग्रेस ने गीत पर प्रतिबंध लगाकर इसको धर्म से जोड़ दिया। यह कांग्रेस की तुष्टीकरण की नीति का हिस्सा था।”

आपको बता दें कि भाजपा अध्यक्ष अमित शाह इस वक्त पश्चिम बंगाल के दो दिवसीय दौरे पर हैं। उनका यह दौरा अगले साल होने वाले आम चुनावों से पहले संगठन में नई जान फूंकने के मकसद से किया जा रहा है।

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App

Leave A Reply

Your email address will not be published.