अब 200 के नए नोट निकलेंगे एटीएम से ,200 के नए नोट के लिए एटीएम में होंगे बदलाव

38

200 रुपये का नोट चलन में आ गया है, लेकिन अभी एटीएम से यह नोट बहुत ही कम संख्या में निकल रहे हैं. अब रिजर्व बैंक 200 रुपये के नोटों की सप्लाइ बढ़ाने की कोशिश में है और इसके लिए उसने बैंकों से एटीएम में बदलाव करने को कहा है. आरबीआई के इस आदेश को अमल मे लाने के लिए, बैंकिंग इंडस्ट्री को 1,000 करोड़ रुपये से अधिक रकम खर्च करनी पड़ सकती है.

देश में फिलहाल लगभग 2.2 लाख एटीएम हैं. 200 रुपये के नए नोट के लिए इन सभी में बदलाव करने में करीब 6 महीने का समय लग सकता है. हालांकि, बैंक एटीएम में बदलाव नहीं करना चाहते थे. पर अब उन्हें इस पर 1,000 करोड़ रुपये खर्च करने पड़ेंगे. एटीएम इंडस्ट्री के दिग्गज, हिताची पेमेंट सर्विसेज के एमडी एल एंटनी ने इस संबंध में बताया कि “एटीएम में बदलाव की अभी शुरुआत ही हुई है.”

एंटनी ने कहा, “इस बार पूरी योजना के साथ एटीएम में बदलाव किया जाएगा. पहले हम एटीएम क्लस्टर की पहचान करेंगे और उसके बाद उनमें 200 रुपये के नोट के लिए बदलाव किए जाएंगे. अगर जल्दबाजी में यह काम किया जाता है तो इससे कॉस्ट अनुमान से अधिक हो जाएगी. हालांकि, हम पूरी योजना के साथ यह काम करने जा रहे हैं.”

8 नवंबर 2016 को नरेंद्र मोदी सरकार के 500 और 1,000 रुपये के पुराने नोटों को बैन करने के बाद करेंसी सर्कुलेशन इससे पहले वाले लेवल पर पहुंच गया है। आरबीआई के डेटा के मुताबिक, अभी यह 17 लाख करोड़ रुपये है। बैंक एटीएम में बदलाव नहीं करना चाहते थे। हालांकि, अब उन्हें इस पर 1,000 करोड़ रुपये खर्च करने पड़ेंगे। देश में कुल 2.2 लाख एटीएम हैं। 200 रुपये के नए नोट के लिए इन सभी में बदलाव करने में करीब 6 महीने का वक्त लग सकता है। एटीएम इंडस्ट्री के दिग्गज एल एंटनी ने बताया कि एटीएम में बदलाव की अभी शुरुआत ही हुई है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.